आज पर्यावरण दिवस के मोके पर “सांवरिया” अभियान का आगाज किया गया

sanwariya steaker for website

पर्यावरण दिवस के अवसर पर मारवाड़ी महासभा, ठाणे(महाराष्ट्र) और उनकी सम्बन्ध संस्था “सांवरिया” के संयुक्त तत्वावधान में “हरयालो राजस्थान अभियान” की शुरुआत जोधपुर में सांवरिया के संस्थापक श्री कैलाश चन्द्र लढा एवं श्रीमती सोनू लढा तथा उनके सहयोगी मित्र पवन मेवाडा, गौरव जाजू, अनिल बंग, विक्रम माहेश्वरी एवं अन्य क्षेत्रवासियों ने मिलकर अपने आस पास के क्षेत्रों में नीम के वृक्ष लगाकर राजस्थान को हराभरा करने का संकल्प लिया और इसी के साथ “सांवरिया” ने श्री महेश राठी (संस्थापक) मारवाड़ी महासभा के सहयोग से जोधपुर में जल्द ही अन्य कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की शुरुआत की घोषणा भी की |

श्री कैलाश ने बताया कि “साँवरिया” का मुख्य उद्देश्य सम्पूर्ण भारत में गौमाता, गरीबों, दीन दुखियों, असहाय एवं निराश्रितों एवं महिलाओं के उत्थान के लिए यथाशक्ति प्रयास करना है|

sanwariya-logo

“साँवरिया” के अनुसार यदि भारत का हर सक्षम व्यक्ति अपने बिना जरुरत की वस्तुएं/कपडे/किताबे/अन्य सामग्री और अपनी धार्मिक कार्यों के लिए की गयी बचत आदि से सिर्फ एक गरीब असहाय व्यक्ति की सहायतार्थ देना शुरू करे तो भारत से गरीबी, निरक्षरता, बेरोजगारी और असमानता को गायब होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा |

आज भी देश में ३० करोड़ से ज्यादा भाई बहिन भूखे सोते हैं अतः भारत के उच्च परिवारों की जन्मदिन/विवाह समारोह एवं कार्यक्रमों में बचे हुए भोजन पानी जो फेंक दिया जाता है यदि वही भोजन उसी क्षेत्र मैं भूखे सोने वाले गरीब और असहाय व्यक्तियों तक पहुंचा दिया जाये तो आपकी खुशिया दुगुनी हो जाएगी और आपके इस प्रयास से देश में भुखमरी से मरने वाले लोगो की असीम दुआए आपको मिलेगी तथा देश में भुखमरी के कारण होने वाली लूटपाट/ चोरी/ डकेती जैसी घटनाएँ कम होकर देश में भाईचारे की भावना फिर से पनपने लगेगी और एक दिन एसा भी आएगा जब देश में कोई भी भूखा नहीं सोयेगा |

“साँवरिया” का लक्ष्य ऐसे भारत का सपना साकार करना है जहाँ न गरीबी/ न निरक्षरता/न आरक्षण/ न असमानता/ न भुखमरी और न ही भ्रष्टाचार हो| चारो ओर सभी लोग सामाजिक और आर्थिक रूप से सक्षम और विकसित हो, जहाँ डॉलर और रुपया की कीमत एक समान हो और मेरा भारत जो पहले भी विश्वगुरु था उसका गौरव फिर से पहले जैसा बना रहे |

sanwariya-logo

sanwariya-logo

जय श्री कृष्णा मित्रों

भगवन शंकर के सर्वाधिक प्रिय सावन के महीने में “सांवरिया” अभियान के वृक्षारोपण अभियान के साथ ही सांवरिया के संस्थापक श्री कैलाश चन्द्र लढा एवं श्रीमती सोनू लढा द्वारा “सांवरिया” के अगले चरण के रूप में राजस्थान के ही विजयपुर ग्राम में जहाँ पर सरकार की निशुल्क दवाइयां वास्तविक 

sanwariya-logo

निर्धन परिवारों तक नहीं पहुच पाती है वहां पर सांवरिया द्वारा गरीब परिवारों को निशुल्क दवाइयां वितरण हेतु गाँव के क्षेत्रवासियों के लिए व्यवस्था शुरू की है जिसमे गावं के निर्धन और बेसहारा व्यक्तियों से किसी प्रकार की दवाई का कोई शुल्क नहीं लिया जायेगा |

“साँवरिया” का मुख्य उद्देश्य सम्पूर्ण भारत में गौमाता, गरीबों, दीन दुखियों, असहाय एवं निराश्रितों एवं महिलाओं के उत्थान के लिए यथाशक्ति प्रयास करना है “साँवरिया” के अनुसार यदि भारत का हर सक्षम व्यक्ति अपने बिना जरुरत की वस्तुएं/कपडे/किताबे/अन्य सामग्री और अपनी धार्मिक कार्यों के लिए की गयी बचत आदि से सिर्फ एक गरीब असहाय व्यक्ति की सहायतार्थ देना शुरू करे तो भारत से गरीबी, निरक्षरता, बेरोजगारी और असमानता को गायब होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा |

भविष्य में “साँवरिया” द्वारा गौमाता/निराश्रित/बेरोजगार/अनाथ/वृद्धजन/ महिलाओं के लिए यथाशक्ति गौशाला/अस्पताल/विद्यालय/अनाथालय/वृद्धाश्रम व उद्योगों की स्थापना भी की जाएगी |

“साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” ग्रूप का प्रथम प्रयास सफल हुआ

“साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” के संचालकों द्वारा दीवाली मनाने के लिए पटाखो मे खर्च किए जाने वालेsanwariya-logo पैसे को ग़रीबो ओर जरुरत्मन्दो के लिए ज़रूरी सामान व मिठाइया वितरित कर मनाने की नई परंपरा शुरू करने का अभियान चलाया जा रहा है इसी दौरान फ़ेसबुक के रमेश शारदा द्वारा “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” के संचालकों को पिता के कैंसरग्रस्त होने के बाद छोटे भाई-बहनों सहित परिवार को पालने के लिए भीख मांगने को विवश हुई बारह साल की अंजलि की खबर फ़ेसबुक पर बताया जिसमे पहले से ही इस कार्य के लिए एक हुए “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” के संचालकों ने खबर के आधार पर पढ़ी तो स्वाति जैसलमेरिया व कैलाश लढा ने पता लगाकर उसकी मदद करने करने लिए स्वाती जैसलमेरिया ने स्वयं जाकर अंजलि के परिवार को सांत्वना दी ओर तत्काल राशन की सामग्री/कपड़े/ स्कूल बेग/ स्कूल ड्रेस आदि ले जाकर उसे सहारा देने के लिए जिला कलेक्टर से मिलकर उसे आर्थिक सहयता दिलवाने को कहा तथा फ़ेसबुक पर लोगो से अपील की | sanwariya-logoउसी दिन स्वाती जी ने स्वयं अंजलि ओर उसकी बहिन को लेजाकर पास के ही प्राइवेट स्कूल मे शुल्क जमा करवाकर उसकी शिक्षा का प्रबंध भी कर दिया| अंजलि के सिर पर अब पिता का साया तो नहीं रहा लेकिन देश-विदेश से सैकड़ों हाथ उसकी मदद के लिए आगे आए हैं।देश के कई हिस्सों से अंजलि को शिक्षा व आर्थिक मदद पहुंचाने का सिलसिला शुरू हो गया मदद मिलने से अब अंजलि के चेहरे पर खुशी के साथ इस बात का सुकून है कि उसके परिवार का बेहतर पालन हो सकेगा।

“साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” ग्रूप का प्रथम प्रयास सफल हुआ

इसके साथ ही “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” के संचालक स्वाति जैसलमेरिया, कैलाश लढा, सोनू लढा, राज मालपानि, निलेश मंत्री, अमित चंद्रकांत कालांत्री व ने मिलकर दीवाली मनाने के लिए पटाखो मे खर्च किए जाने वाले पैसे को ग़रीबो ओर जरुरत्मन्दो के लिए ज़रूरी सामान व मिठाइया वितरित कर मनाने की नई परंपरा की शुरुआत जोधपुर से की|

sanwariya-logo

जिसमे सोशल मीडिया फ़ेसबुक पर “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” सभी लोगो ने समर्थन किया ओर देश के कई हिस्सो से लोगो ने इस कार्य के लिए अपना सहयोग करने हेतु “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” को अलग अलग शहरों मे सहयोग राशि भिजवाई, इससे “साँवरिया” व “स्वाति नक्षत्र” ने जोधपुर के स्वाति जैसलमेरिया, कैलाश लढा, सोनू लढा व पवन मेवाड़ा, विक्रम तोषणीवाल ने, आंध्रप्रदेश मे श्री राज मालपानि ने, नासिक मे निलेश मंत्री व अमित चंद्रकांत कालांत्री ने सभी जगहो पर ग़रीबो मे सर्दी के कपड़े, शॉल व मिठाई वितरित की| इससे प्रेरित होकर सभी लोगो ने इस प्रदूषणमुक्त दीवाली का अपने अपने शहरो मे भी इसी प्रकार आयोजन किया ओर भविष्य मे इसी प्रकार त्योहार मनाने का निश्चय किया

भीलवाड़ा के श्री रामनारायण जी लढा के पुत्र और साँवरिया के संचालक श्री कैलाश लढा ने बताया कि “साँवरिया” के अनुसार यदि भारत का हर सक्षम व्यक्ति अपने बिना जरुरत की वस्तु/कपडे/किताबे और अपनी धार्मिक कार्यों के लिए की गयी बचत आदि से सिर्फ एक गरीब असहाय व्यक्ति की सहायतार्थ देना शुरू करे तो भारत से गरीबी, निरक्षरता, बेरोजगारी और असमानता को गायब होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा | आज भी देश में ३० करोड़ से ज्यादा भाई बहिन भूखे सोते हैं अतः भारत के उच्च परिवारों की जन्मदिन/विवाह समारोह एवं कार्यक्रमों में बचे हुए भोजन पानी जो फेंक दिया जाता है यदि वही भोजन उसी क्षेत्र मैं भूखे सोने वाले गरीब और असहाय व्यक्तियों तक पहुंचा दिया जाये तो आपकी खुशिया दुगुनी हो जाएगी और आपके इस प्रयास से देश में भुखमरी से मरने वाले लोगो की असीम दुआए आपको मिलेगी तथा देश में भुखमरी के कारण होने वाली लूटपाट/ चोरी/ डकेती जैसी घटनाएँ कम होकर देश में भाईचारे की भावना फिर से पनपने लगेगी और एक दिन एसा भी आएगा जब देश में कोई भी भूखा नहीं सोयेगा |

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

sanwariya-logo

guru purnima neem

 

 

neem mahotsav 2

RAJASTHAN PATRIKA NEWS

 

“विशाल रक्तदान शिविर”

मानवता की सेवा मे समर्पित “साँवरिया” और “स्वाति नक्षत्र” की ओर से आयोजित “विशाल रक्तदान शिविर” मे मारवाड माटी के सुप्रसिद्ध रामसनेही संप्रदाय के संत श्री रामप्रसाद जी महाराज के जन्मोत्सव व झलझूलनी एकादशी के पावन अवसर पर विश्वहिंदू परिषद अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया ने व संत श्री ने पूरे भारत के रक्तदाताओं की जानकारी उपलब्ध कराने वाली वेबसाइट www.sanwariya.org का लोकार्पण किया तथा साँवरिया के संस्थापक श्री कैलाशचंद्र लढा ने प्रवीण भाई को व वहाँ उपस्थित जोधपुर से व बाहर से पधारे हुए सभी रक्तदाताओं को वेबसाइट की उपयोगिता के बारे मे बताया| कार्यक्रम मे मुख्यातिथि के रूप मे पधारे हुए भाजपा जिलाध्यक्ष माननीय नरेंद्र जी कच्छवाहा, उपाध्यक्ष श्री राजेंद्र जी बोराना, व विश्व हिंदू परिषद के जोधपुर शहर के अध्यक्ष श्री जुगल जी झंवर का डॉ. निलम सुनील मूंदड़ा द्वारा माल्यर्पण कर स्वागत किया स्वाति नक्षत्र की संस्थापिका श्रीमती स्वाति जैसलमेरिया जी ने जोधपुर के एसीपी (लाइसेन्सिंग) श्रीमती प्रीति काकानी को शॉल ओढ़ा कर सम्मान किया स्वाति जैसलमेरिया जी ने बताया की कार्यक्रम मे रक्तदान का शुभारंभ संत श्री रामप्रसाद जी महाराज ने सर्वप्रथम दीप प्रज्वलित कर व श्रीफल तोड़कर अपने स्वयं के रक्त का रक्तदान कर किया | संत श्री के रक्तदान से वहाँ उपस्थित लोगो मे रक्तदान के लिए भारी उत्साह था| साँवरिया के संस्थापक श्री कैलाशचंद्र लढा ने बताया की इस विशाल रक्तदान शिविर को सफल बनाने के लिए कार्यक्रम मे मुख्य सहयोगी भूमिका मे डॉ० दीपक श्रीवास्तव (अंबिका ब्लड बॅंक), डॉ० श्रीमती सूरज माहेश्वरी, डॉ० रजनीश शर्मा, श्री संजय डांगरा, श्री अमित फोफ़लिया, श्री विकास लढा, श्री पवन मेवाड़ा, श्री विक्रम माहेश्वरी, श्री नितिन बंग(फ्यूनिक्स) श्री नरेश सिगची, श्री रामकिशोर लोहिया, श्रीमती अंजू गाँधी, श्री नरसिंह करवा, श्री हनुमान माहेश्वरी सहित जोधपुर के बाहर से आए हुए कई कार्यकर्ताओ सहित कई लोगो ने रक्तदान किया

00011 01 01

 

DSC00035

मानवता की सेवा मे समर्पित “साँवरिया” और “स्वाति नक्षत्र” की ओर से आयोजित “विशाल रक्तदान शिविर” विश्वहिंदू परिषद अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय डॉ. प्रवीण भाई तोगड़िया साँवरिया की वेबसाइट का लोकार्पण करते हुए व साँवरिया के संस्थापक श्री कैलाशचंद्र लढा प्रवीण भाई को वेबसाइट की उपयोगिता बताते हुए

_DSC0031
मानवता की सेवा मे समर्पित “साँवरिया” और “स्वाति नक्षत्र” की ओर से आयोजित “विशाल रक्तदान शिविर” मे साँवरिया के संस्थापक श्री कैलाशचंद्र लढा रक्तदान करते हुए साथ मे डॉ. निलम सुनील मूंदड़ा, स्वाति नक्षत्र की संस्थापिका श्रीमती स्वाति जैसलमेरिया जी, श्री रामनारायण जी लढा श्री संजय डांगरा, श्रीमती कंचन जाजू, श्री सुरेश जाजू, व भीलवाड़ा से पधारे हुए श्री जगदीश चंद्र लढा रक्तदान करते हुए
_DSC0142

मानवता की सेवा मे समर्पित “साँवरिया” और “स्वाति नक्षत्र” की ओर से आयोजित “विशाल रक्तदान शिविर” मे स्वाति नक्षत्र की संस्थापिका श्रीमती स्वाति जैसलमेरिया जी रक्तदान करते हुए साथ मे साँवरिया के संस्थापक श्री कैलाशचंद्र लढा, श्री रामनारायण जी लढा, श्री अमित फोफ़लिया, श्री विकास लढा, श्री विक्रम माहेश्वरी, श्री पवन मेवाड़ा, श्री जगदीशचंद्र लढा, श्री संजय डांगरा, —

_DSC0151